पड़ोसन भाभी की ग्रुप चुदाई

हेलो दोस्तों मेरा नाम अतुल है और मैं मुझे जयपुर राजस्थान का रहने वाला हूं आज मैं आपको बताऊंगा कैसे मैंने और मेरे दोस्त ने मिलकर मेरे पड़ोस में रहने वाली भाभी की चुदाई करी।


मेरे घर के पड़ोस में एक सेक्सी भाभी रहती है वह बहुत सेक्सी है उसका पति एक ट्रक ड्राइवर है ,और वह दस पंद्रह दिन में एक बार घर आता है वह भाभी का नाम सुनीता है सुनीता भाभी का एकदम मस्त है वह ज्यादा गोरी नहीं है उसका फिगर बहुत मस्त है वह थोड़ी चालू किस्म की औरत है वह जब गांड हिला हिल कर चलती है तो लंड खड़ा हो जाता है। मोहल्ले के सारे लड़के उसको लाइन मारते है वह किसी को भाव नहीं देती।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
हमारी बारहवीं की एग्जाम खत्म हो गई थी और मैं और मेरे दोस्त हम घर पर बैठ कर मस्ती करा करते थे एक बार सुनीता भाभी हमारे घर पर सामान लेने आई थी तो मैं और मेरा दोस्त हम सब बैठे थे घर पर मम्मी पापा नहीं थे एक शादी में गए थे तो भाभी ने मुझसे बोला मम्मी कहा है तुम्हारी मैने बोला वह तो शादी मे गये है फ़िर वह सामन लेकर चली गयी फ़िर मेरे दोस्त बोले भाभी तो कड़क माल है मेने बोला है एक नम्बर माल है बहुत बार रात मे उसके नाम से पानी निकाल लिया मैंने मैंने मेरे दोस्त से बोला वह बहुत चालू है।वह आती रहती है हमारे घर मम्मी के पास टाइम पास करने।
मेरे दोस्त बोलो उसको चोदने की जुगाड़ लगाते हैं मैंने बोला लेकिन कैसे लगाएं फिर उसने मेरा फोन उठाया और भाभी को मैसेज किया भाभी आप मेरे घर आ जाओ सब लोग मिलकर पार्टी कर रहे हैं भाभी का मैसेज आया है कि नहीं आप लोग करो।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
उसके बाद हम शाम को टीवी पर एक्स एक्स एक्स वीडियो देख रहे थे में और मेरा दोस्त हम दो लोग ही थे बाकि सभी चले गए थे उन के जाने के बाद हम दरवाजा लगाना भूल गए थे तभी कब भाभी आ गई हमें पता नहीं चला भाभी की चुपके से दरवाजे में से वीडियो देख रही थी और हम अपने लंड सहला रहे थे और वीडियो देख रहे थे तभी मेरी नजर भाभी पर पड़ी मैंने टीवी बंद कर दी इसके बाद भाभी कुछ नहीं बोली और उनके घर चली गई है फिल्म मेरी गांड फट रही थी कि वह मम्मी को ना बोल दे।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
फिर मैंने भाभी को सॉरी बोला मम्मी ने भाभी को खाने का बोला था तो भाभी खाना देने आई वह जाने लगी मैंने उनका हाथ पकड़ लिया और बोला भाभी आप मम्मी मत बताना कि हम क्या कर रहे हैं थे तो उन्होंने बोला नहीं बताऊंगी तुम मेरे साथ भी ऐसा ही करो हमारी तो खुशी का ठिकाना ही नहीं था मैंने बोला इतनी सी बात भाभी बिल्कुल आपके लिए तो कुछ भी करने को तैयार हूं फिर भाभी ने बोला कि मैं आती हूं रात में 10:00 बजे।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
उसके बाद हम दोनों ने खाना खाया और मेडिकल से जाकर कंडोम ले आए और घर आकर हम दोनों दोस्त अपने झांठ के बाल बनाएं फिर भाभी का रास्ता देखने लगे 10:00 बजे फिर दरवाजे पर बेल बजी मैंने दरवाजा खोला भाभी खड़ी थी लाल कलर की नाइटी में एकदम मस्त लग रही थी और अभी नहा कर आई थी और वो जालीदार नाइटी पहन कर आई थी जिसमें कि वह बहुत साफ झलक रही थी अंदर वह कुछ पहनकर नहीं आई थी।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
फिर वह अंदर आई दरवाजा बंद कर दिया हम अंदर गए फिर हम दोनों ने भाभी को सोफे पर बीच में बैठा लिया और मैं उनके बोबे को चूसने लगा और मेरा दोस्त उनके होंठ पर किस करने लगा और जोर से काटने लगा सुनीता भाभी बोली धीरे करो मैं रात भर यही हूं तुम्हारे साथ चदूंगी कहीं नहीं जाऊंगी मैंने बोला भाभी अब सब्र नहीं होता वो बोली मैं भी 15 दिन से चुदी नहीं हूं मुझे भी लंड की बहुत जरूरत है और आज मैं दो लड़कों से एक साथ चुदुगी ।
फिर हम दोनों ने हमारे कपड़े निकाल दिए हैं और हम दोनों पूरे नंगे हो गए हैं और फिर हमने भाभी की भी नाइटी निकाल दी भाभी तो अंदर ऐसे भी कुछ भी नहीं पहन के आई थी भाभी के बॉबे बहुत बड़े-बड़े हैं उनको देखकर में उनको चूसने लगा और दबाने लगा है मेरा दोस्त उनकी गांड दबा रहा था और सुनीता भाभी हम दोनों के लंड मसल रही थीये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
सुनीता भाभी घुटनों के बल नीचे बैठ गई और मेरा लंड मुंह में लेने लगी और एक हाथ से मेरे दोस्त का लंड मसल रही थी और मैं भाभी के मुंह में लंड अंदर बाहर कर रहा था थोड़ी देर बाद में भाभी के मुंह में ही पूरा पानी निकाल दिया के बाद भाभी मेरे दोस्तों का लंड मुंह में ले उसको जोड़ जोड़ से अंदर बाहर कर रही थी और थोड़ी देर बाद उसका भी पानी निकल गया फिर भाभी नीचे सो गई टांगे फैलाकर और बोलीमदरचोद मेरी चुत को चाटो फिर हम दोनों भाभी की ऊपर आ गए और मैं भाभी की चुत चाटने लगा और मेरा दोस्त भाभी के पूरे शरीर को चाट रहा था और वह भी सिसकिया ले रही थी और बोल रही जोर से चाटो आह अहहह अहह यह हहह हहह थोड़ी देर बाद भाभी की चुत से गर्म पानी निकल गया हमारे लंड फिर से तन गए थे फिर भाभी बोली कि तुम दोनों एक साथ मुझे चोदो मैंने बोला हम एक साथ कैसे चोदगे तो भाभी बोली कि एक मेरे नीचे सो एक मेरे ऊपर सो मैं तुमको बताती हूं कि तुम्हें कैसे चोदना है भाभी बोली पहले कभी लड़की नहीं चोदी है क्या दोनों ने।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
हमने बोला लड़की को चोद दी है पर दो लोगो ने मिलकर एक साथ नहीं चोदी दी है तो भाभी बोली में तुमको सिखाती हूं दो लोग मिलकर एक औरत को कैसे चोदते हैं भाभी ने मेरे दोस्त को बोला कि तुम नीचे सो जाओ वह नीचे सो गया और भाभी उसका लंड भाभी की चूत पर सेट किया और मुझे कहा तो तुम मेरी गांड में लंड डालो बोला भाभी कॉन्डम लगा लो पहले नहीं तो कोई प्रॉब्लम हो जाएगी भाभी बोली कोई प्रॉब्लम नहीं होगी तुम छोड़ो मुझे प्रॉब्लम होगी तो मुझे भी तुम्हें नहीं होगी मैं मेरे पति से रोज चुदती हूं लेकिन अभी 15 दिन से आ नहीं रहे इसलिए मेरी चुत की आग में तुम्हारे से बुझा रही हूं मैंने अपना लंड भाभी की गांड में डाला भाभी के मुंह से आह निकल गई और फिर भाभी मेरे दोस्त का लंड छूट में अंदर बाहर कर रही थी और जोर जोर से ऊपर निचे हो रही थी और मैं भाभी की गांड में लंड अंदर डालकर कर रखा वह जोर जोर से चिल्ला रही थी मारो और जोर से मारो अहा हाहाहा अहह अहह यह हा हा हा हा मजा आ रहा है मारो।
मुझे भी मज़ा आ रहा था मैं भाभी को जोर जोर से झटके दे रहा था और भाभी के मुंह से आवाज निकल रही थी मारो जोर से मेरी गांड मारो मेरी गांड फाड़ दो मैं भाभी को जोर जोर से झटके रहा था भाभी को भी मजा आ रहा था और फिर थोड़ी देर बाद हम तीनों एक साथ झड़ गए हैं और मेरे दोस्त ने पूरा वीर्य भाभी की चुत में छोड़ दिया और मैंने भाभी की गांड में और भाभी की गांड के छेद में वीर्य छोड़ दिया था मैंने भाभी की गांड में लंड निकाला और फिर हम तीनों जमीन पर रही लेटे रहे।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
भाभी बोलि मेरा पति 10-15 दिन में एक बार घर आता है और मुझे रात भर चोदता है और फिर वापस चला जाता है तो मेरी प्यास नहीं बुझती है इसलिए मुझे तुमसे चुदना पड़ा मुझे रोज में कोई चोदे तो मेरी प्यास नहीं बुझती है ,भाभी की बातें सुनकर हमारा लंड फिर से खड़ा हो गया और हम फिर से भाभी को चाटने लगे मैं भाभी के मुंह में मुंह डालकर और चूस रहा था वह भी मेरा पूरा साथ दे रही थी मेरा दोस्त भाभी के बोबो को हाथों से दबा रहा था और वह चूस रहा था।
फिर मैंने भाभी को बोलना कि हम तुमको एक एक करके चोदगे तुमको भी मजा आएगा और हमको भी मजा आएगा भाभी बोली ठीक है जैसे चोदना और चोदो़,में तुम्हारी रांड हु जैसे चोदना हो चोदो।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
मैंने भाभी को बिस्तर पर सुलाया और भाभी की गांड के नीचे तकिया रख कर अपना लंड भाभी की चुत पर सेट किया और मेरा दोस्त ने उसका लंड भाभी के मुंह में डाल दिया और मैं भाभी की चुत में लंड डालकर भाभी को चोद रहा था और पूरा रूम में फच फच की आवाज आ रही थी और भाभी के मुंह से आवाज आ रही थी मेरा दोस्त भाभी के मुंह में झड़ गया था फिर भाभी के मुंह से आवाज आ रही थी चोद चोद जोर से चोद मेरी चुत फाड़ दो और से चोद तेरी गांड में जितना दम है उतनी जोर से चोद अपने भाभी को जोर जोर से चोद रहा था और भाभी की गांड ऊपर उठा उठा कर चुदवा रही थी।
ऐसी हम दोनों ने मिलकर भाभी की रात भर चुदाई करी और भाभी भी हमसे सुबह 4:00 बजे तक चुदी और फिर उनकी नाइटी पहन कर उनके घर चली गई और हम भी सो गए।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
और जब भी हम को मौका मिलता था भाभी की चुदाई करते थे और भाभी भी हम से चुदती थी।
यही थी मेरी चुदाई की कहानी कैसी लगी आप और कमेंट करके जरूर बताना

Leave a Reply