क्लाइंट से चुत और गांड चुदाई

हेलो दोस्तों मेरा नाम सीमा है में में बिलासपुर की रहे वाली हु और में में आप को आज मेरी चुदाई सच्ची की सच्ची कहानी बताने जा रही हु।
मेरी उम्र 23 साल है मेरी रंग फेयर है और मेरे बॉडी एक दम फिट है।

में अच्छी खूबसूरत लड़की हु मे मेरा MBA कम्प्लीट करने के बाद दिल्ली चली गई थी। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
में एक कंपनी में वहा मार्केटिंग की जॉब करती हु और मेरे जॉब ठीक चल रही थी और में खुश थी।
स्टार्टिंग में तो दिल्ली में अच्छा नहीं लग रहा था बाद में धीरे धीरे आदत फिर वक्त गुजरता गया मेरे बहुत सारे फ्रेंड बन गए और ऑफिस में भी पहचान बन गई। मुझे वहां काम करते-करते तीन साल हो गए थे और मार्केटिंग हेड बन गई थी बॉस मुझ पर बहुत यकीन करते थे और सारा काम मुझ पर छोड़ कर चले जाते थे। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
फिर मंदी का दौर चालू हो गया और क्लाइंट धीरे-धीरे कम हो चुके थे कंपनी घाटे में जाने लगी मुझ पर जॉब का प्रेशर बढ़ता जा रहा था,कंपनी घाटे में जाने लगी थी कंपनी के क्लाइंट नहीं बन रहे थे कोई भी क्लाइंट बिजनेस करने को तैयार नहीं था मुझे समझ में नहीं आ रहा था मैं क्या करूं लगातार कंपनी घाटे के चलते कंपनी के मालिक ने बहुत सारे एंप्लॉय को काम से निकाल दिया था।
एक दिन मैंने मेरे क्लाइंट मेहता को फोन किया उन्होंने कहा मंदी के दौर में बिजनेस का क्या करेंगे मैंने बोला सर प्लीज आप एक बार बिजनेस कर लीजिए और आप जो चाहेंगे वह मैं करने को तैयार हूं वह बोले ठीक है ठीक है मैं आपको सोच कर बताता हूं उन्होंने नेअगले दिन मुझे बिजनेस मीटिंग के लिए उनके ऑफिस में बुलाया मैं उनके ऑफिस में बिजनेस मीटिंग के लिए गई वहां उन्होंने बोला बिजनेस तो कर लूंगा आप रिटर्न में मुझे कुछ देतो मैं कुछ सोचु मैंने बोला मैं समझी नहीं सर आप क्या कहना चाहते हैं। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।

तो उन्होंने बोला तुम मुझे खुश कर दो मैं आपकी कंपनी को बिजनेस दे दूंगा फिर मेने बोला ये आप क्या बोल रहे है तो उन्होंने बोला में तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहता हु तुम अच्छे से सोच लेना फिर मुझे कॉल केर के बता देना।
में वहा से आ गई और फिर मे सोचने लगी क्या करू फिर मेने सोचा कि अगर एक बार चोदने से जॉब बच रही है तो एक बार चोदना ही सही है उससे जॉब भी बज जाएगी और कंपनी को भी प्रॉफिट हो जाएगा वैसे मिस्टर मेहता बहुत खूबसूरत खूबसूरत है उनकी उम्र लगभग 40 साल होगी मेने उन्हें कॉल करके बोलै में रेडी हु उन्होंने मुझे बोला में आप को शाम में कॉल करता हु फिर में ऑफिस सेनिकल रही थी तब मेहता का कॉल आया की तुम कल एक होटल का पता दिया वह आ जाना का कल दस बजे शुबह मेने बोलै ठीक है और फिर फ़ोन रख दिया।अपने बॉस को बताया कि कल हमें एक क्लाइंट मिल जाएंगे जो बिजनेस देंगे दो कल थोड़ा लेट ऑफिस आऊंगी मीटिंग खत्म होने के बाद बॉस ने बोला ठीक है और फिर मैं ओफ़्फ़िए से आ गई।ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
अगले मैं अपनी चुत के बाल साफ करके अच्छे से तैयार होकर वहां होटल पहुंच गई मैं होटल के बाहर उनका वेट करने लगी थोड़ी देर बाद वह भी वहां आ गए और हम दोनों होटल के एक रूम में गए अंदर जाकर हमने डोर लॉक किया और शूज उतार कर बिस्तर पर बैठ गए मैं तो फिर वह मेरे कपड़ों के ऊपर से
मेरे बूब्स को दबाने लगे और लिप किस करने लगे मैं भी उनका पूरा साथ देने लगी। हम आधे घंटे तक एक दूसरे को किश करते रहे।
वह मेरे होंठ को जोर जोरसे काट रहे थे फिर वह मेरे कपड़े निकालने लगे धीरे-धीरे मैं भी उनके शर्ट की बटन खोलने लगी अब मैं ब्रा और पेंटी में थी और वह अंडर वियर में थे और उन्होंने बोला तुम्हारा फिगर तो बड़ा कमल का है।वह मेरी चूची को ब्रा के ऊपर से जोर जोर से दबा रहे थे पेंटिंके ऊपर से मेरी चुत में उंगली कर रहे थे मेरे मुंह से सिसकियां निकल रही थी अहा अहा हम्महा हम्म मैं उनका लंड को सहला रही थी। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
उन्होंने एक ही बार में मेरी ब्रा खींचकर फाड़ दि और पेंटिं खींचकर बाहर निकाल दि मैं उनके सामने पूरी नंगी खड़ी थी फिर उन्होंने अपनी अंडरवियर निकाल दीया और वह भी पूरे नंगे हो गए फिर वह मेरी चूची को काटने लगे और मेरे शरीर चाटने लगे और चुत मैं उंगली डलगे मेरे मुंह से सिसकियां निकल रही थी में भी गरम हो रही थी और भी उन्हें चाट रही थी और सिसकिया भर रही थी मेरे मुँह से कामुक आवाज निकल रही थी आह आह हो उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और टांग को फैलाकर मेरी चुत चाटने लगे और मेरे मुंह से जोड़ जोड़ से सिसकियां निकल रही थी आह आह हो हो…
मुझे बहुत अच्छा लागर रहा था और थोड़ी देर बाद मेरी चुत से गरम गरम पानी निकल गया। फिर वह आगे आए और उन्होंने मेरे मुंह में अपना लंड डाल दिया और उनका लण्ड मेरे गले तक आ गया था मैं उनके लण्ड को अच्छे से चूसने लगी और वह कह रहे तो तुम तो बड़े अच्छे से लण्ड चुस्ती हो बहुत मजा आ गया आनंद ला दिया।और वह लण्ड को मेरे मुँह में अंदर बाहर कर मेरा मुँह चोदने लगे तुमने तो फिर थोड़ी देर बाद उन्होंने अपना सारा वीर्य मेरे मुंह में डाल दिया। और फिर लण्ड मेरे मुंह से बाहर निकाल दिया। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
थोड़ी देर बाद उनका लण्ड फिर खड़ा हो गया और उन्होंने मुझे बिस्तर पर सीधा सुलाया और मेरी गांड के नीचे एक तकिया रखकर मेरी टांगे फैलाकर मेरी चुत में अपना लण्ड डाल दिया मैं पहले से चुदी थी तो मुझे ज्यादा फर्क नहीं पड़ा रहता और उन्होंने एक ही बार में मेरी चुत में अपना लण्ड डाल दिया और अंदर बाहर करने लगे वह बहुत तेजी से मुझे चोद रहे थे और मेरे मुंह से आवाज निकल रही थी़ अहा अहा अहाअहाअहा हहहह हहहहहह हह अच्छे से चोदो जोर से चोदो और मैं भी उनका साथ दे रही थी और गांड उठा उठा कर चुदवा रही थी।
उन्होंने चुदाई की स्पीड तेज कर दी और वह जोर-जोर से चुदाई करने लगे और जोर-जोर से लण्ड मेरी चुत में अंदर बाहर करने लगे और जब वह लण्ड अंदर बाहर करते थे तो फच फच चचचचचच फच चचचचफच चचचचफच चचचचफच चचचच की आवाज आ रही थी 25-30 मिनट कि चुदाई के बाद मैंने उन्हें कस कर पकड़ लिया हम दोनों एक साथ झड़ गए हैं उन्होंने सारा वीर्य चुत में ही छोड़ दिया हम दोनों थोड़ी देर ऐसे ही लेटे रहे फिर थोड़ी देर बाद उनका लण्ड फिर से खड़ा हो गया। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
फिर वह बोले मैं तुम्हारी गांड मारूंगा तो मैंने बोला नहीं मैंने आज तक गांड नहीं मरवाई और मुझे बहुत दर्द होगा वो कहने लगे गांड तो मरवाना पड़ेगा मुझे गांड मारने में ही मजा आता है तुम्हें भी मजा आएगा पहले थोड़ा दर्द होगा मैंने बोला नहीं ऐसा मत कीजिए मुझे बहुत दर्द होगा तो बोले नहीं एक बार डालने तो दो ,अगर दर्द होगा तो फिर नहीं करूंगा और मुझे बिस्तर के ऊपर घोड़ी बनाया और मेरी गांड में अपना लण्ड सेट करने लगे उनका लण्ड मेरी गांड में जा ही नहीं रहा था और मेरी जोर जोर से चीख निकल रही थी मेने बोलै मत करो प्लीज लेकिन वो नहीं मान रहे थे। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
फिर उन्होंने थोड़ा सा तेल लगाया मेरी गांड पर और एक ही बार मैं आधा लण्ड मेरी गांड में डाल दिया मेरे मुंह से जोर से चीख नीकली अहा अहा अहाअहाअहा हहहह हहहहहह आ आ आ मर गई प्लीज लण्ड बाहर निकालो और मेरी आंख से आंसू आने लग गए थे फिर उन्होंने थोड़ी देर बाद एक और झटका मारा और पूरा लण्ड मेरी गांड के अंदर चला गया था और मेरी गांड से खून आने लग गया था और मैं जोर जोर से चिल्ला रही थी नहीं नहीं निकालो निकालो अहा अहा अहाअहाअहा हहहह हहहहहह फिर थोड़ी देर बाद वो धीरे धीरे मेरी गांड में लण्ड अंदर बाहर करने लगेगा थोड़ी देर बाद मुझे भी अच्छा महसूस होने लगा फिर थोड़ी देर बाद वो मेरी गांड को जोर जोर से चोदने लगे हो मैं भी अच्छे से उन से चुदवाने लगी मुझे थोड़ा दर्द हो रहा था पर मजा आ रहा था। वह जोर जोर से चोदने लगे और मेने बिस्तर को दोनों हाथो से जोर से पकड़ लिया और मेरे मुँह से आवाज निकल रही थी अहहहहह अहहहहह थोड़ी देर बाद वो झाड़ गये और उन्होंने अपना वीर्य मेरे गांड के छेद में और गांड के ऊपर डाल दिया उसके बाद और मेरी दो बार गांड मारी वह दो चुत मारी और फिर बिज़नस डील साइन करके मुझे पेपर दे दिए और हम कपड़े पहन कर वहां से आ गए मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा था तो मुझसे चले भी नहीं जा रहा था फिर मैं धीरे से ऑफिस पहुंची और वहां जाकर अपने बॉस को पेपर दिया और मैंने कहा कि सर अब मैं घर जा रही हूं मुझे थोड़ा काम है और फिर वह मैंने घर आकर आराम करने लगी उसके ऐसे ही में चुदाई करवाकर क्लाइंट से अपना बिजनेस निकला करती थी और आगे चलकर में मेरी अपनी खुद की कंपनी खोल ली और मेरे पास बहुत सारे क्लाइंट है और मैं उनसे बहुत खुश हूं और वह भी मेरे से बहुत खुश हैं। ये कहानी आप हिंदी सेक्स कहानी डॉट ऑनलाइन पर पढ़ रहे हो।
तो यह थी मेरी चुदाई की कहानी कैसी लगी आपको कमेंट कर कर जरूर बताना।

Leave a Reply